फिलहाल 'मणिकर्णिका' फिल्म पर एक ब्राह्मण जातीय समूह ने इतिहास से छेड़छाड़ का आरोप लगाया है. इस बात से आप सभी सहमत होंगे कि 'उत्तरभारतीय हिंदू ब्राह्मण समुदाय' बेहद पुरुषवादी रहा है. और उसने पूर्व में कभी ब्राह्मण अस्मिता के...
बस्तर (Bastar) का नाम सुनते ही मन मे ढेरों सवाल उठते हैं और भय और क्रोध की एक मिश्रित सी लहर धमनियों में दौड़ जाती है। हालाँकि इन सारे सवालों में नक्सली समस्या एक ऐसा सवाल था जिसे समझने...
पश्चिमी दिल्‍ली में एक 23 साल के लडके की उसके घर के पास हत्‍या कर दी गई. पुलिस के मुताबिक़ लड़के के 20 साल की एक मुस्लिम लड़की के साथ संबंध थे. इसी बात से छुब्ध हो कर लड़की...
साल 1998. इस साल एक फिल्म आई थी "दिल से." फिल्म के निर्देशक थे मणिरत्नम और इसके लिए गीत लिखे थे गुलजार ने. फिल्म कई दिनों तक सिनेमाघरों की सिल्वर स्क्रीन पर चढ़ी रही. फिल्म के गाने भी बहुत...
गांधी की यादों में डूबी 30 जनवरी, 1 फरवरी को हवा में उड़ा दी जायेगी. इसमें गांधी जैसा कुछ भी नहीं होगा. यह केवल इस साल ही नहीं होगा बल्कि पिछले सालों में होता आया है, और आगे भी...
मोहनदास करमचंद गांधी, यह नाम आधुनिक भारत के इतिहास को दो स्पष्ट काल खंडों में बांटता है- गांधी के समय का भारत और गांधी के बाद का भारत. गांधी के बाद के भारत की यात्रा 30 जनवरी 1948 से...
जब जब प्यार पे पहरा हुआ है, ये इश्क और भी गहरा हुआ है. ये इश्क उस ऐसे इंसान से है जिसके नाम से भारत को जाना जाता है, गांधी. आज के भारत में सबसे ज्यादा मुश्किल है- किसी को प्यार...
महात्मा गांधी स्वतंत्र भारत की आबोहवा में लगभग पाँच महीने से कुछ दिन ज्यादा जिंदा रहे। तमाम नेता और सुधारक जिस दिन चमकती दिल्ली में स्वतंत्रता का जश्न मना रहे थे। गांधी उससे कोसों दूर नोआखाली में हो रहे...
महात्मा गांधी के नाम एक वामपंथी का पत्र   मैं खांटी वामपंथी हूँ बापू, लेकिन न मालूम क्यों सालों से हर रोज तुम्हें महसूस करता हूँ... कम्युनिस्ट हो जाने के बाद और शिद्दत से... और हिन्द स्वराज के कुछ हिस्सों में...
महात्‍मा गांधी की मृत्‍यु को लेकर एक सवाल मन में गूंजता रहता है कि वह किसी षडयन्‍त्र का परिणाम थी या प्रभु की लीला थी। प्रश्‍न चुनौतीपूर्ण और जटिल है। परिस्थितियां ऐसी हैं जिनमें इसका अनुत्‍तरित रह जाना स्‍वा‍भाविक...

सोशल मीडिया

0FansLike
48FollowersFollow

हमारी पसंद

विज्ञापन

- Advertisement -